Dharm Ki Devi

धर्म की देवी

एल्बम वर्ग: हिन्दी, फ़िल्म
वर्ष: १९३५
संगीतकार: अनिल बिस्वास
गीतकार: गौरी शंकर लाल 'अख्तर'
सम्पूर्ण रेटिंग:
मेरी रेटिंग:
 
 



गाने


 
करहु प्रभो भौ सागर से पार
 
संगीतकार: अनिल बिस्वास
गीतकार: गौरी शंकर लाल 'अख्तर'
शैली:
सम्पूर्ण रेटिंग:
मेरी रेटिंग:
 
भारतवासी करो आज दुखी जन सेवा
 
संगीतकार: अनिल बिस्वास
गीतकार: गौरी शंकर लाल 'अख्तर'
शैली:
सम्पूर्ण रेटिंग:
मेरी रेटिंग:
 
मालिनिया अब लाओ माला
 
संगीतकार: अनिल बिस्वास
गीतकार: गौरी शंकर लाल 'अख्तर'
शैली:
सम्पूर्ण रेटिंग:
मेरी रेटिंग:
 
जिधर देखो जहाँ देखो उसी शै में रमा वह है
 
संगीतकार: अनिल बिस्वास
गीतकार: गौरी शंकर लाल 'अख्तर'
शैली:
सम्पूर्ण रेटिंग:
मेरी रेटिंग:
 
न भूलो न भूलो प्रिय आज को यह सपर्प अनुराग
 
संगीतकार: अनिल बिस्वास
गीतकार: गौरी शंकर लाल 'अख्तर'
शैली:
सम्पूर्ण रेटिंग:
मेरी रेटिंग:
 
आज़ाद हूँ दुनिया में दुनिया है
 
संगीतकार: अनिल बिस्वास
गीतकार: गौरी शंकर लाल 'अख्तर'
शैली:
सम्पूर्ण रेटिंग:
मेरी रेटिंग:
 
मेरी बीवी मेरी बीवी मुझ पर है मरती
 
संगीतकार: अनिल बिस्वास
गीतकार: गौरी शंकर लाल 'अख्तर'
शैली:
सम्पूर्ण रेटिंग:
मेरी रेटिंग:
 
क्षमा करो तुम क्षमा करो यह कहकर सब चिल्लाते हैं
 
संगीतकार: अनिल बिस्वास
गीतकार: गौरी शंकर लाल 'अख्तर'
शैली:
सम्पूर्ण रेटिंग:
मेरी रेटिंग:
 
कुछ भी नहीं भरोसा दुनिया है आणि जानी
 
संगीतकार: अनिल बिस्वास
गीतकार: गौरी शंकर लाल 'अख्तर'
शैली:
सम्पूर्ण रेटिंग:
मेरी रेटिंग:
 
दर्द ने दिल में चमक कर तुर्फ़ी समां कर दिया
 
संगीतकार: अनिल बिस्वास
गीतकार: गौरी शंकर लाल 'अख्तर'
शैली:
सम्पूर्ण रेटिंग:
मेरी रेटिंग:
 
नारायण नारायण नारायण कर मन मधुसूदन की आरती
 
संगीतकार: अनिल बिस्वास
गीतकार: गौरी शंकर लाल 'अख्तर'
शैली:
सम्पूर्ण रेटिंग:
मेरी रेटिंग:
 
अजब हाल अपना होता जो विसाल यार होता
 
संगीतकार: अनिल बिस्वास
गीतकार: गौरी शंकर लाल 'अख्तर'
शैली:
सम्पूर्ण रेटिंग:
मेरी रेटिंग:
 
कर हाल पे अपने रहम ज़रा क़ुदरत को तू यों नाशाद न कर
 
संगीतकार: अनिल बिस्वास
गीतकार: गौरी शंकर लाल 'अख्तर'
शैली:
सम्पूर्ण रेटिंग:
मेरी रेटिंग:
 

पुरस्कार


 
  • पुरस्कारों की जानकारी उपलब्ध नहीं है

सामान्य ज्ञान


 
  • सामान्य ज्ञान उपलब्ध नहीं है



प्रतिक्रिया