Punarmilan

पुनर्मिलन

एल्बम वर्ग: हिन्दी, फ़िल्म
वर्ष: १९६४
संगीतकार: सी. अर्जुन
गीतकार: गुलशन बावरा, राजा मेहदी अली खान, इन्दीवर
लेबल: सारेगामा
सम्पूर्ण रेटिंग:
मेरी रेटिंग:
फ़िल्म क्रेडिट: निर्देशक: रवीन्द्र दवे. अभिनेता: बलराज साहनी, अमीता, शशिकला, अमरनाथ, जगदीप, मुमताज़ बेगम, लीला चिटनिस, असित सेन. प्रोडक्शन कं.: नगीना फ़िल्म्स.
 



गाने


 
अजब तेरी माया तेरा भेद न पाया
गायक: मोहम्मद रफ़ी
संगीतकार: सी. अर्जुन
गीतकार: गुलशन बावरा
शैली: भजन
सम्पूर्ण रेटिंग:
मेरी रेटिंग:
 
चल जाए तेरा जादू जिस पर (भई रे भई रे मैं तो बावरी भई)
गायक: लता मंगेशकर, मन्ना दे
संगीतकार: सी. अर्जुन
गीतकार: गुलशन बावरा
शैली: फ़िल्मी, गुजराती लोक
सम्पूर्ण रेटिंग:
मेरी रेटिंग:
 
न जाने कौन ये आवाज़ देता है
गायक: आशा भोसले
संगीतकार: सी. अर्जुन
गीतकार: इन्दीवर
शैली: फ़िल्मी, सुगम
सम्पूर्ण रेटिंग:
मेरी रेटिंग:
 
पास बैठो तबियत बहल जाएगी
गायक: मोहम्मद रफ़ी
संगीतकार: सी. अर्जुन
गीतकार: इन्दीवर
शैली: फ़िल्मी, सुगम
सम्पूर्ण रेटिंग:
मेरी रेटिंग:
 
इन प्यार की राहों में
गायक: आशा भोसले, मोहम्मद रफ़ी
संगीतकार: सी. अर्जुन
गीतकार: गुलशन बावरा
शैली: फ़िल्मी
सम्पूर्ण रेटिंग:
मेरी रेटिंग:
 
रुक जा ओ जानेवाले
 
गायक: आशा भोसले
संगीतकार: सी. अर्जुन
गीतकार: गुलशन बावरा
शैली: फ़िल्मी
सम्पूर्ण रेटिंग:
मेरी रेटिंग:
 
चाह करनी थी चाह कर बैठे
गायक: आशा भोसले, मुबारक बेगम
संगीतकार: सी. अर्जुन
गीतकार: राजा मेहदी अली खान
शैली: फ़िल्मी, सुगम
सम्पूर्ण रेटिंग:
मेरी रेटिंग:
 

पुरस्कार


 
  • पुरस्कारों की जानकारी उपलब्ध नहीं है

सामान्य ज्ञान


 

    गीत

  • पास बैठो तबियत बहल जाएगी - Indeevar thought up these lines of this song while traveling in a BEST bus along with composer C. Arjun. Apparently, the two were seated when Indeevar asked C. Arjun to give up his seat for a pretty girl in the crowded bus. Indeevar didn't speak a word with the girl through the journey but when they got off and went to C. Arjun's home, he had the words ready for this song. The lyricist and the composer sat through the night and had the song ready by morning next day.[1]



सन्दर्भ


 

प्रतिक्रिया