Ramnagri

रामनगरी

एल्बम वर्ग: हिन्दी, फ़िल्म
वर्ष: १९८२
संगीतकार: जयदेव
गीतकार: नक़्श लायलपुरी
लेबल: एच.एम.वी.
सम्पूर्ण रेटिंग:
मेरी रेटिंग:
फ़िल्म क्रेडिट: निर्देशक: कांतिलाल राठोड़. निर्माता: कांतिलाल राठोड़. कथा: राम नगरकर. संवाद: वसंत देव. अभिनेता: अमोल पालेकर, अधिक...
 



गाने


 
मैं तो कब से तेरी शरण में हूँ
गायक: हरिहरन, नीलम साहनी
संगीतकार: जयदेव
गीतकार: नक़्श लायलपुरी
शैली: सुगम, भजन
सम्पूर्ण रेटिंग:
मेरी रेटिंग:
 
मन के दर्पण में चेहरा
गायक: अनुराधा पौडवाल, हरिहरन
संगीतकार: जयदेव
गीतकार: नक़्श लायलपुरी
शैली: सुगम, फ़िल्मी
सम्पूर्ण रेटिंग:
मेरी रेटिंग:
 
आ बैठ जा मोटरसाइकिल पे
गायक: हरिहरन
संगीतकार: जयदेव
गीतकार: नक़्श लायलपुरी
शैली: फ़िल्मी
सम्पूर्ण रेटिंग:
मेरी रेटिंग:
 
रातों को मांगे है साजन से
गायक: हरिहरन
संगीतकार: जयदेव
गीतकार: नक़्श लायलपुरी
शैली: फ़िल्मी, सुगम, हिन्दी लोक
सम्पूर्ण रेटिंग:
मेरी रेटिंग:
 

पुरस्कार


 
  • पुरस्कारों की जानकारी उपलब्ध नहीं है

सामान्य ज्ञान


 

    एल्बम

  • This film was based on a novel by the Marathi actor and comic Ram Nagarkar. Nagarkar also acted in the film.

    गीत

  • मैं तो कब से तेरी शरण में हूँ - When Sulabha Deshpande passed away in 2016, Amol Palekar recalled her terrific acting in this song. According to him, the actress, who had played his mother in the film, had enhanced this bhajan with a tender moment between her and Amol Palekar's characters. When music director Jaidev had seen the rushes for the song, he had been so pleased that he had hugged Sulabha Deshpande and Amol Palekar.[1]



सन्दर्भ


 

प्रतिक्रिया