Sati Savitri

सति सावित्री

एल्बम वर्ग: हिन्दी, फ़िल्म
वर्ष: १९३२
संगीतकार: झंडे खान
सम्पूर्ण रेटिंग:
मेरी रेटिंग:
 
 



गाने


 
जय जय जय पतिव्रते नार
 
संगीतकार: झंडे खान
शैली:
सम्पूर्ण रेटिंग:
मेरी रेटिंग:
 
राज ताज सकल साज
 
संगीतकार: झंडे खान
शैली:
सम्पूर्ण रेटिंग:
मेरी रेटिंग:
 
पायो है सुरंग अंग मृग
 
संगीतकार: झंडे खान
शैली:
सम्पूर्ण रेटिंग:
मेरी रेटिंग:
 
कलहारी नारी तू ही लिखी थी मेरे भाग में
 
संगीतकार: झंडे खान
शैली:
सम्पूर्ण रेटिंग:
मेरी रेटिंग:
 
आशा निराशा दिखला रही तमाशा
 
संगीतकार: झंडे खान
शैली:
सम्पूर्ण रेटिंग:
मेरी रेटिंग:
 
जलवे मेरी निगाह में
 
संगीतकार: झंडे खान
शैली:
सम्पूर्ण रेटिंग:
मेरी रेटिंग:
 
लियो आनन्द तो दिल ने कहा
 
संगीतकार: झंडे खान
शैली:
सम्पूर्ण रेटिंग:
मेरी रेटिंग:
 
चल दूर दूर ठगनी
 
संगीतकार: झंडे खान
शैली:
सम्पूर्ण रेटिंग:
मेरी रेटिंग:
 
सागर संग मिलाप कर क्यूँ न नदी लहराय
 
संगीतकार: झंडे खान
शैली:
सम्पूर्ण रेटिंग:
मेरी रेटिंग:
 
देवपुरी कहते हैं जिसे वो पर्णकुटी है मेरी
 
संगीतकार: झंडे खान
शैली:
सम्पूर्ण रेटिंग:
मेरी रेटिंग:
 
रसिक बिहारी बतियाँ तिहारी तर हैं
 
संगीतकार: झंडे खान
शैली:
सम्पूर्ण रेटिंग:
मेरी रेटिंग:
 
सरले कर ले पावन पुण्य अनन्त
 
संगीतकार: झंडे खान
शैली:
सम्पूर्ण रेटिंग:
मेरी रेटिंग:
 
सो रहा निश्चिन्त हुआ क्यूँ जाग रे नर जाग रे
 
संगीतकार: झंडे खान
शैली:
सम्पूर्ण रेटिंग:
मेरी रेटिंग:
 
नैनों में ऐसी बसी है प्यारी
 
संगीतकार: झंडे खान
शैली:
सम्पूर्ण रेटिंग:
मेरी रेटिंग:
 
जो ये शादी बरबादी गले न पड़ती
 
संगीतकार: झंडे खान
शैली:
सम्पूर्ण रेटिंग:
मेरी रेटिंग:
 
चेहरे पर चमकन लगी छुपी न मन की पीर
 
संगीतकार: झंडे खान
शैली:
सम्पूर्ण रेटिंग:
मेरी रेटिंग:
 

पुरस्कार


 
  • पुरस्कारों की जानकारी उपलब्ध नहीं है

सामान्य ज्ञान


 
  • सामान्य ज्ञान उपलब्ध नहीं है



प्रतिक्रिया