Yeh Lamhe Judaai Ke

ये लम्हे जुदाई के

एल्बम वर्ग: हिन्दी, फ़िल्म
वर्ष: २००४
संगीतकार: निखिल - विनय, राजेंद्र सलील
गीतकार: एस.आर. भारती, योगेश गौड़, रानी मलिक, चंदर - II
लेबल: फाइ ऑडियो
सम्पूर्ण रेटिंग:
मेरी रेटिंग:
एल्बम क्रेडिट: SONGS RECORDED AT: Sunny Super Sound. BACKGROUND SCORE: Musicaa Arts. BACKGROUND SCORE ARRANGED & CONDUCTED BY: Bijoy Singh.
 
फ़िल्म क्रेडिट: निर्देशक: बीरेंद्रनाथ तिवारी. निर्माता: आर. जी. नय्यर. लेखक: नागेश भारद्वाज. अभिनेता: शाह रुख खान, अधिक...
 



गाने


 
तेरे नाम लेने की चाहत हुई है
गायक: कुमार शानू, साधना सरगम
संगीतकार: निखिल - विनय
गीतकार: योगेश गौड़
शैली: फ़िल्मी
सम्पूर्ण रेटिंग:
मेरी रेटिंग:
 
ये दिल है या शीशा
गायक: कुमार शानू
संगीतकार: निखिल - विनय
गीतकार: योगेश गौड़
शैली: फ़िल्मी
सम्पूर्ण रेटिंग:
मेरी रेटिंग:
 
तुम पास हो जब मेरे
गायक: कुमार शानू, आशा भोसले
संगीतकार: निखिल - विनय
गीतकार: चंदर - II
शैली: फ़िल्मी
सम्पूर्ण रेटिंग:
मेरी रेटिंग:
 
यादें तेरी यादें (विषाद)
गायक: कुमार शानू
संगीतकार: निखिल - विनय
गीतकार: चंदर - II
शैली: फ़िल्मी
सम्पूर्ण रेटिंग:
मेरी रेटिंग:
 
राम कसम दिल्ली सरकार
गायक: अलका याज्ञिक, शान
संगीतकार: राजेंद्र सलील
गीतकार: एस.आर. भारती
शैली: फ़िल्मी
सम्पूर्ण रेटिंग:
मेरी रेटिंग:
 
यादें तेरी यादें
गायक: कुमार शानू
संगीतकार: निखिल - विनय
गीतकार: चंदर - II
शैली: फ़िल्मी
सम्पूर्ण रेटिंग:
मेरी रेटिंग:
 
तेरियाँ मोहब्बतां ने
गायक: आशा भोसले
संगीतकार: निखिल - विनय
गीतकार: रानी मलिक
शैली: फ़िल्मी, भांगड़ा
सम्पूर्ण रेटिंग:
मेरी रेटिंग:
 
मेरे दिल को करे बेक़ाबू
 
गायक: आशा भोसले, उदित नारायण
संगीतकार: निखिल - विनय
शैली: फ़िल्मी
सम्पूर्ण रेटिंग:
मेरी रेटिंग:
 

पुरस्कार


 
  • पुरस्कारों की जानकारी उपलब्ध नहीं है

सामान्य ज्ञान


 

    एल्बम

  • इस फ़िल्म को १९९३ में निर्देशक पवन कौल ने "जादू" नाम से लॉंच किया गया था. यह फ़िल्म उस समय रद्द कर दी गई थी. इसे २००४ में अन्य कलाकारों के साथ पूरा कर के रिलीज़ किया गया था. शाह रूख खान और रवीना टंडन ने इस फ़िल्म में अपने पात्रों के लिए डब करने से मना कर दिया था.

    गीत

  • तेरे नाम लेने की चाहत हुई है - निखिल - विनय ने इस गीत को पहले रेकॉर्ड किया था लेकिन चूँकि यह फ़िल्म रद्द कर दी गई थी उन्होंने इस धुन को "तुम्हारे सिवा कुछ ना चाहत करेंगे" ("तुम बिन", २००१) गीत में इस्तमाल किया था.[1]
  • यादें तेरी यादें - निखिल - विनय ने इस गीत को पहले रेकॉर्ड किया था लेकिन चूँकि यह फ़िल्म रद्द कर दी गई थी उन्होंने इस धुन को "तुम बिन जिया जाए कैसे" ("तुम बिन", २००१) गीत में इस्तमाल किया था.[2]



सन्दर्भ


 

प्रतिक्रिया