Zarak Khan

ज़राक खान

एल्बम वर्ग: हिन्दी, फ़िल्म
वर्ष: १९६३
संगीतकार: एस. मोहिन्दर
गीतकार: सबा रामपुरी, आनन्द बक्शी
लेबल: सारेगामा
सम्पूर्ण रेटिंग:
मेरी रेटिंग:
फ़िल्म क्रेडिट: निर्देशक: हरबंस - I. अभिनेता: जयराज, चित्रा, शीला, हर्मन, बेबी फ़रीदा, तिवारी, कुमुद त्रिपाठी, नाज़ी, डब्ल्यू.एम. खान, रवि खन्ना, रविकान्त, शिवजी, रफ़िया, अधिक...
 



गाने


 
दुनिया में उजाला है तुमसे
गायक: मोहम्मद रफ़ी, एस. बलबीर
संगीतकार: एस. मोहिन्दर
गीतकार: सबा रामपुरी
शैली: फ़िल्मी, सूफ़ी/कव्वाली
सम्पूर्ण रेटिंग:
मेरी रेटिंग:
 
शाम की तनहाइयाँ हैं प्यार की अंगड़ाईयाँ हैं
गायक: आशा भोसले
संगीतकार: एस. मोहिन्दर
गीतकार: आनन्द बक्शी
शैली: फ़िल्मी, ग़ज़ल
सम्पूर्ण रेटिंग:
मेरी रेटिंग:
 
नकारा बोला ये दिल का शोला
 
गायक: आशा भोसले
संगीतकार: एस. मोहिन्दर
गीतकार: आनन्द बक्शी
शैली:
सम्पूर्ण रेटिंग:
मेरी रेटिंग:
 
खाना तेरे शहर में आई गुड़िया जापानी
 
संगीतकार: एस. मोहिन्दर
गीतकार: आनन्द बक्शी
शैली:
सम्पूर्ण रेटिंग:
मेरी रेटिंग:
 
तारों की छाँव तले शमा परवाना मिले
गायक: सुमन कल्याणपुर, मोहम्मद रफ़ी
संगीतकार: एस. मोहिन्दर
गीतकार: आनन्द बक्शी
शैली: फ़िल्मी
सम्पूर्ण रेटिंग:
मेरी रेटिंग:
 
इस गुलशन को आग लगा दो
गायक: सुमन कल्याणपुर, मोहम्मद रफ़ी
संगीतकार: एस. मोहिन्दर
गीतकार: आनन्द बक्शी
शैली: फ़िल्मी
सम्पूर्ण रेटिंग:
मेरी रेटिंग:
 

पुरस्कार


 
  • पुरस्कारों की जानकारी उपलब्ध नहीं है

सामान्य ज्ञान


 
  • सामान्य ज्ञान उपलब्ध नहीं है



प्रतिक्रिया