Sheeshe Ka Ho Ya Patthar Ka Dil

शीशे का हो या पत्थर का दिल

गायक: मोहम्मद रफ़ी, लता मंगेशकर
संगीतकार: एस.डी. बर्मन
गीतकार: मजरूह सुल्तानपुरी
शैली: फ़िल्मी, सुगम
सम्पूर्ण रेटिंग:
मेरी रेटिंग:
एल्बम: बात एक रात की
वर्ष: १९६२
एल्बम वर्ग: हिन्दी, फ़िल्म


विडियो


 




पुरस्कार


 
  • पुरस्कारों की जानकारी उपलब्ध नहीं है

सामान्य ज्ञान


 
  • This was Lata Mangeshkar's first released song with S.D. Burman after a long hiatus. They had apparently stopped working together after a misunderstanding had developed between them while recording the songs for the film "Miss India" (1957). They had eventually resolved their differences and resumed working together for the film "Bandini" (1963). However, other than this song, there were two other releases in the period between "Miss India" (1957) and "Bandini" (1963) that included the songs for the films "Sitaron Se Aage" (1958) and "Dr. Viyda" (1962).[1][2][3][4][MR7]


सन्दर्भ


 

इस तरह के गाने

 
Dekha Kisi Ne Kuchh Aise देखा किसी ने कुछ ऐसे
   
एल्बम: बॉम्बे का चोर
गायक: आशा भोसले
संगीतकार: रवि
गीतकार: राजेंद्र कृष्ण
शैली: फ़िल्मी, सुगम
सम्पूर्ण रेटिंग:
मेरी रेटिंग:
एल्बम वर्ग: हिन्दी, फ़िल्म
 
Din Beetein Ladakpan Ke दिन बीतें लड़कपन के
 
एल्बम: जहाँ सती वहाँ भगवान
गायक: आशा भोसले, कमल बारोट
संगीतकार: लाला सत्तार
गीतकार: मधुकर राजस्थानी
शैली: फ़िल्मी, सुगम
सम्पूर्ण रेटिंग:
मेरी रेटिंग:
एल्बम वर्ग: हिन्दी, फ़िल्म
 
Jab Kanha Ki Meethi Muraliya Baaje जब कान्हा की मीठी मुरलिया बाजे
  • एल्बम: नाग देवता
    गायक: सुमन कल्याणपुर
    संगीतकार: एस.एन. त्रिपाठी
    गीतकार: क़मर जलालाबादी
    शैली: सुगम, फ़िल्मी
    सम्पूर्ण रेटिंग:
    मेरी रेटिंग:
    एल्बम वर्ग: हिन्दी, फ़िल्म
     


    प्रतिक्रिया