Phir Hatheli Pe Lakeeron Ka Samundar Dekhoon

फिर हथेली पे लकीरों का समुन्दर देखू-

-ँ

गायक: पंकज उधास
संगीतकार: एम.एस. विश्वनाथन, अमीन - संगीत
शैली: फ़िल्मी, ग़ज़ल
सम्पूर्ण रेटिंग:
मेरी रेटिंग:
एल्बम: हम तुमको देख लेंगे
वर्ष: १९७८
एल्बम वर्ग: हिन्दी, फ़िल्म

 

विडियो


 
  • No video available


पुरस्कार


 
  • पुरस्कारों की जानकारी उपलब्ध नहीं है

सामान्य ज्ञान


 
  • सामान्य ज्ञान उपलब्ध नहीं है


इस तरह के गाने

 
Apni Aankhon Mein Basa Kar अपनी आँखों में बसा कर
  • एल्बम: ठोकर
    गायक: मोहम्मद रफ़ी
    संगीतकार: श्यामजी घनश्यामजी
    गीतकार: साजन देहलवी
    शैली: फ़िल्मी, ग़ज़ल
    सम्पूर्ण रेटिंग:
    मेरी रेटिंग:
    एल्बम वर्ग: हिन्दी, फ़िल्म
     
    Sola Singar Karke Aayi Jo Suhag Raat सोला सिंगार करके आई जो सुहाग रात
  • एल्बम: गबन
    गायक: मोहम्मद रफ़ी
    संगीतकार: शंकर - जयकिशन
    गीतकार: हसरत जयपुरी
    शैली: फ़िल्मी, ग़ज़ल
    सम्पूर्ण रेटिंग:
    मेरी रेटिंग:
    एल्बम वर्ग: हिन्दी, फ़िल्म
     
    Mere Khayal Ki Vaadi मेरे खयाल कि वादी
     
  • एल्बम: अ टीम कम ट्रू
    गायक: तलत अज़ीज़
    कलाकार: पीनाज़ मसानी, तलत अज़ीज़
    शैली: फ़िल्मी, ग़ज़ल
    सम्पूर्ण रेटिंग:
    मेरी रेटिंग:
    एल्बम वर्ग: हिन्दी, गैर फ़िल्मी
     


    प्रतिक्रिया