Bhulane Se Kyun Aur Bhi Yaad Aayen (Do Hi Lafzon Ka Tha Ye Afsana)

भुलाने से क्यूँ और भी याद आएँ (दो ह-

-ी लफ़्ज़ों का था ये अफ़साना)

गायक: ए.आर. कुरैशी, नसीम अख्तर
संगीतकार: ए.आर. कुरैशी
गीतकार: तनवीर नकवी
शैली: फ़िल्मी, ग़ज़ल
सम्पूर्ण रेटिंग:
मेरी रेटिंग:
एल्बम: वामिक अज़रा
वर्ष: १९४६
एल्बम वर्ग: हिन्दी, फ़िल्म


विडियो


 




पुरस्कार


 
  • पुरस्कारों की जानकारी उपलब्ध नहीं है

सामान्य ज्ञान


 
  • सामान्य ज्ञान उपलब्ध नहीं है


इस तरह के गाने

 
Hasrat Nahin Jeene Ki Mushkil Nahin Mar Jaana हसरत नहीं जीने की मुश्किल नहीं मर जाना
 
एल्बम: रूप रेखा
गायक: ज़ीनत बेगम
संगीतकार: पंडित अमरनाथ
गीतकार: प्रीतम ज़ीयाई
शैली: फ़िल्मी, ग़ज़ल
सम्पूर्ण रेटिंग:
मेरी रेटिंग:
एल्बम वर्ग: हिन्दी, फ़िल्म
 
Zabt Kar Bahr-E-Khuda Shikwa-E-Bedaad Na Kar ज़ब्त कर बहर-ए-खुदा शिकवा-ए-बेदाद न कर
 
एल्बम: ससी पुन्नू
गायक: जी.एम. दुर्रानी
संगीतकार: गोविंद राम
गीतकार: ईश्वर चंद्र कपूर
शैली: फ़िल्मी, ग़ज़ल
सम्पूर्ण रेटिंग:
मेरी रेटिंग:
एल्बम वर्ग: हिन्दी, फ़िल्म
 
Haay Yeh Maine Kya Kiya हाय ये मैंने क्या किया
 
एल्बम: सम्पत्ति
गायक: तलत महमूद
संगीतकार: तिमिर बरन
गीतकार: पंडित भूषण
शैली: फ़िल्मी, ग़ज़ल
सम्पूर्ण रेटिंग:
मेरी रेटिंग:
एल्बम वर्ग: हिन्दी, फ़िल्म
 


प्रतिक्रिया