Awaara Hoon

आवारा हूँ

गायक: मुकेश
संगीतकार: शंकर - जयकिशन
गीतकार: शैलेंद्र
शैली: फ़िल्मी
सम्पूर्ण रेटिंग:
मेरी रेटिंग:
एल्बम: आवारा
वर्ष: १९५१
एल्बम वर्ग: हिन्दी, फ़िल्म


विडियो


 




पुरस्कार


 
  • पुरस्कारों की जानकारी उपलब्ध नहीं है

सामान्य ज्ञान


 
  • The genesis of this song's lyrics happened during the narration of the film's script by writer K.A. Abbas. Raj Kapoor had taken lyricist Shailendra along with him for the script's narration. Abbas ignored the relative newcomer, Shailendra, for the two-plus hours of narration. After the narration was over, Raj Kapoor asked Shailendra "Kuch Samajh Mein Aaya, Kaviraj?". Pat came Shailendra's reply "Gardish mein tha par aasmaan ka taara tha. Awara tha.". His response left Raj Kapoor and K.A. Abbas awe-struck and formed the basis of the film's title song.[1]


सन्दर्भ


 

इस तरह के गाने

 
Dekho Taanga Mera Nirala देखो तांगा मेरा निराला
  • एल्बम: तांगावाली
    गायक: मोहम्मद रफ़ी
    संगीतकार: सलिल चौधरी
    गीतकार: प्रेम धवन
    शैली: फ़िल्मी
    सम्पूर्ण रेटिंग:
    मेरी रेटिंग:
    एल्बम वर्ग: हिन्दी, फ़िल्म
     
    Main Bandar Hoon Shahar Ka मैं बन्दर हूँ शहर का
     
    एल्बम: इन्सानियत
    गायक: मोहम्मद रफ़ी
    संगीतकार: सी. रामचंद्र
    गीतकार: राजेंद्र कृष्ण
    शैली: फ़िल्मी
    सम्पूर्ण रेटिंग:
    मेरी रेटिंग:
    एल्बम वर्ग: हिन्दी, फ़िल्म
     
    Duniya Ke Sare Ghamon Se Begana दुनिया के सारे ग़मों से बेगाना
  • एल्बम: मस्ताना
    गायक: मोहम्मद रफ़ी
    संगीतकार: मदन मोहन
    गीतकार: राजेंद्र कृष्ण
    शैली: फ़िल्मी
    सम्पूर्ण रेटिंग:
    मेरी रेटिंग:
    एल्बम वर्ग: हिन्दी, फ़िल्म
     


    प्रतिक्रिया