Lachak Lachak Ke Jab Bhi Kamar Hilaai Hai

लचक लचक के जब भी कमर हिलाई है

गायक: साधना सरगम, कविता कृष्णमूर्ति, विजेता पंडित
संगीतकार: जतिन - ललित
गीतकार: एम.जी. हशमत
शैली: फ़िल्मी
सम्पूर्ण रेटिंग:
मेरी रेटिंग:
एल्बम: गैंगस्टर
वर्ष: १९९५
एल्बम वर्ग: हिन्दी, फ़िल्म

 

विडियो


 
  • No video available


पुरस्कार


 
  • पुरस्कारों की जानकारी उपलब्ध नहीं है

सामान्य ज्ञान


 
  • सामान्य ज्ञान उपलब्ध नहीं है


इस तरह के गाने

 
Kuch Main Kahoon कुछ मैं कहूँ
 
एल्बम: पापी देवता
गायक: मोहम्मद अज़ीज़
संगीतकार: लक्ष्मीकांत - प्यारेलाल
गीतकार: आनन्द बक्शी
शैली: फ़िल्मी
सम्पूर्ण रेटिंग:
मेरी रेटिंग:
एल्बम वर्ग: हिन्दी, फ़िल्म
 
Pahan Ke Choli Jaipur Ki पहन के चोली जयपुर की
  • एल्बम: चोरों की रानी हसीनों का राजा
    गायक: अनुराधा पौडवाल, कविता कृष्णमूर्ति
    संगीतकार: अनवर - उस्मान
    गीतकार: महेंद्र देहलवी
    शैली: फ़िल्मी
    सम्पूर्ण रेटिंग:
    मेरी रेटिंग:
    एल्बम वर्ग: हिन्दी, फ़िल्म
     
    O Mere Dulhe Raja ओ मेरे दुल्हे राजा
     
  • एल्बम: एक था दिल एक थी धड़कन
    गायक: कविता कृष्णमूर्ति, नयन राठौड़, जोजो
    संगीतकार: सुरेंद्र सोढ़ी, आनंद राज आनंद
    गीतकार: जावेद अख्तर
    शैली: फ़िल्मी
    सम्पूर्ण रेटिंग:
    मेरी रेटिंग:
    एल्बम वर्ग: हिन्दी, फ़िल्म
     


    प्रतिक्रिया